Strategy and use of 200 Day Moving Average – Trading में 200 Moving Average को कैसे Use करे।

200 Moving Average सभी नए – पुराने Traders का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला Indicator है। यह कहना गलत नहीं होगा।

जिस भी Trader को आप follow करते होंगे उनके मुँह से – उनकी videos में या उनके posts में आप देखते सुनते होंगे। कोई भी न्यूज़ चैनल खोल लो आपको सुनने को मिल ही जायगा
“Bank Nifty 200 Moving Average को तोड़ता हुआ निचे आ गया है – BEARSISH TREND शुरू हो गया है।”
“Wipro Just Closed Below the 200MA – TIME TO SELL.”

पर एक बात का जवाब दीजिये क्या इनको सुनके ही ट्रेडिंग – Trading करते रहना ठीक है ?

ऐसे क्या हम Trader बन जाएंगे क्या ?

मुश्किल नहीं असंभव लगता है।

ये सब सुन सुन कर Trade करने से कभी तो Profit और ज्यादाकर LOSS ही होगा।

अगर 200MA के पीछे के कारण – विज्ञान – psychology को समझ गए तो ये Indicator काफी सहायता कर सकता है आपको Decision लेने में की BUY करे SELL करे या छोड़ दे।

ज्यादा मुश्किल नहीं है इसी BLOG में काफी Clearity आजायगी आपको।

इस Article में आप समझेंगे। …….

  • 200 Day Moving Average क्या है और ये काम कैसे करती है ?
  • 200 day Moving Average को Use कैसे करना है और कैसे हम अपना Winning Rate बड़ा कर कैसे Profitable Trader बन सकते है।
  • अपनी ENTRY (Buy – Sell करने का समय) को कैसे और बेहतर बना सकते है 200 Day Moving Average की मदद से।
  • कैसे MAJOR TREND ( बड़े ट्रेंड ) का भरपूर स्वाद ले सकते है – उसमे बने रहकर बड़ा profit ले सकते है।

विशवास कीजिये ये सब संभव है।

नमश्कार ! स्वागत है आपका,

200 Day Moving Average क्या है और ये काम कैसे करती है ?

200 Day Moving Average क्या है और ये काम कैसे करती है ?

MA (Moving Average ) एक Trading indicator है जो की भाव (Price) का Average निकाल के उसको Chart पे एक Line बना कर दिखता है। ये इसकी सबसे सरल परिभाषा होगयी।

अब इसको एक उदहारण से समझते है।

मान लीजिये पिछले 5 दिनों का INFY का भाव (Closing Price) 100, 90, 95, 105 और 100 रुपये है।
तो 5 दिन की Moving Average [ 100 + 90 + 95 + 105 + 100 ] / 5 = 98 होगी।

और इसको 5 दिन के chart पे लगायेंगे तो एक लाइन बन जायगी। बस यही माया है इस Day Moving Average की।

अब अगर हम 50 दिन की Average का Indicator लगाएंगे तो वो 50 Day Moving Average कहलायगी । 100 दिन की 100 Day Moving Average, 200 दिनों की 200 Day Moving Average कहलाएगी । अब विषय हमारा 200 Day Moving Average है तो हम उसकी बात करते है।

निचे दिया हुआ चित्र आपको Tradingview पे कैसे लगाना है 200 Day Moving Average को ये बता रहा है, जरा द्रिष्टि डालिये।

Moving average पे Click कर के उसकी Settings में जाके इनपुट पे 200 की Value Fill कर दीजेयगा।

और सब करने के बाद आपका Chart कुछ ऐसे दिखेगा। जो ये सफ़ेद रेखा है यही है 200 MA

अब, Moving Average भी कई प्रकार की होती है जैसे की Exponential, Simple, Weighted। लकिन जो concept (मूल भाव ) आप सकेंगे वोही सभी में लगेगा बस उन Moving Average की कैलकुलेशन थोड़ी सी अलग होजाती है जिसमे आपको ज्यादा कुछ विचारना नहीं है।

अब आगे सीखते है।

200 day Moving Average को Use कैसे करना है और कैसे हम अपना Winning Rate बड़ा कर कैसे Profitable Trader बन सकते है।

200 Day Moving Average एक LONG TERM(लम्बे समय के अनुमान के लिए) Indicator है। इसको हमेशा याद रखियेगा।

इसकी मदद से आप लम्बे समय का Trend (दिशा ) की जानकारी ले सकते है और उसीके आधार पे ही Positional (लम्बे समय ) के लिए trade ले सकते है या कहे Investing में भी इसका इस्तेमाल कर सकते है।

कैसे ? चलिए जानते है।

अगर तो भाव (Price) 200MA से ऊपर है, तो सिर्फ खरीदने (BUY) का ही विचार बनाइये। और अगर तो भाव (Price) 200MA से निचे है, तो सिर्फ बेचने (SELL) का ही विचार बनाइये।

आसान है ? हाँ , पर शब्दों पे गौर दीजेएगा – विचार बनाइये – सीधा बेच – खरीद मत लीजिये। उसके लिए और भी मापदण्ड को देखना जरुरी है। ये उन मापदंड का एक हिस्सा है।

निचे चित्र में ऊपर समझाई बात की झलक देखिये।

अब आपके मन में ये प्रशन आ सकता है के ऐसा ही क्यों ?

प्रशन उठा ? नहीं ? …….. उठना चाहिए।

देखिये आपने सभी Traders से सुना होगा,”Trend is friend until its bend” (दिशा के संग ही चलिए जब तक वो खुद अपनी दिशा न बदल ले )
जब पूरा समुदाय – एक बड़ा झुण्ड एक तरफ एक दिशा में चल रहा है, उस से लड़ाई करलोगे क्या ? खैर वो तो आप हम करते ही है तभी तो घाटे में रहते है।

इतनी ताकत आपकी कुछ हजारो रुपये के ट्रेड में नहीं है की आप दिशा बदल दे मार्किट की। इसलिए जिस दिशा में सब चल रहे है उस दिशा में चलने से आपको अपना Target बोहोत आसानी से मिलने की सम्भावना है, क्युकी एक्ता में बल है। कहावत सुनी है ना ……… “बहती गंगा में हाथ धोलो” बस वही करना है। अगर ऐसा नहीं किया तो हम खुद धूल जाएंगे Stock Market से।

बड़ी से बड़ी strategy बिना Trend follow किये कामयाब हो ही नहीं सकती ऐसा मेरा पूर्ण विश्वास है अटूट विश्वास है। अगर आपकी कुछ और राय है तो निचे Comment कर के बताईएगा।

अब अपने विषय के अगले सूत्र पे चलते है।

अपनी ENTRY (Buy – Sell करने का समय) को कैसे और बेहतर बना सकते है 200 Day Moving Average की मदद से।

भाई जी ! Trend पता लगाना कोई इतनी बड़ी बात तो है नहीं। बड़ी बात है की उस Trend में ठीक समय में शामिल यानी Entry लेना।

उसके लिए कुछ Techniques है जो आप इस्तेमाल कर सकते हो।

  • Support & Resistance
  • 200MA Bounce
  • Chart Patterns

वैसे तो ये विषय काफी गंभीर है पर यहाँ सिर्फ इशारे में और सरल से सरल तरीके से आपको समझाने की कोशिश कर रहा हु। इनके लिए अलग से ब्लोग्स आएंगे जल्दी ही।

एक एक कर के समझते है……..।

Support & Resistance

Support – वो area (जगह) जहाँ पे Buyers (खरीददार – Bulls) भाव को निचे नहीं गिरने दे रहे Sellers(विक्रेता – Bears) की बार बार कोशिश के बावजूद भी।

Resistance – Support का उलट – वो area (जगह) जहाँ पे Sellers(विक्रेता – Bears) भाव को ऊपर नहीं उठने दे रहे Buyers (खरीददार – Bulls) की बार बार कोशिश के बावजूद भी।

अब अगर भाव 200 Day Moving Average से ऊपर है तो Support पे आप Buy कर सकते है। इसके उलट अगर भाव 200 Day Moving Average से निचे है तो आप Sell कर सकते है Resistance area पर।

निचे चित्रों में इसका उदहारण है, देखिये जरा।

200MA Bounce

200MA भी एक Support – Resistance ही है। बस जो प्रचलित है या जिसे आपने ऊपर पढ़ा वो स्पॉट (Horizontal) होता है ये दिशामय होता है जैसे TRENDLINE

अब वैसे तो कहाँ जाता है जब भाव 200MA को छू के उछले या छू के फिर से उठे या गिरे (200MA ऊपर हो या निचे उस हिसाब से) तो आप अपनी Entry बना सकते है।

निचे चित्रों में इसका उदहारण है, देखिये जरा।

मदमस्त कर देने वाली TIPS(सूत्र)

मेरी आप माने तो कुछ candlestick को और Candlesticks patterns को पढ़-सिख ले। जब आप candlesticks patterns पे Trade लेंगे 200MA Bounce पे ही काफी अच्छे – अच्छे trade मिलेंगे आपको।
और अगर आपको 200MA Bounce पे ही Support – Resistance भी मिल जाए तो Ahaa ! गजब का Trade मिलेगा। मदमस्त करने वाला Profit मिल सकता है।

Chart Patterns

200MA के हिसाब से Trend पक्का होगया तो फिर आप Bullish – Bearish Chart Patterns का इस्तेमाल कर Entry ले सकते हो।

जैसे की 200 Day Moving Average भाव से निचे है – मतलब Uptrend है। तो उसमे आप अब Bull Flag Pattern के ब्रेकआउट पे Trade ले सकते हो। ऐसे ही उलट है Downtrend के लिए।

बस ध्यान देने वाली बात ये है की Trend के opposite (उलट) दिशा में trade न ले। क्योकि आपको कुछ Chart pattern दिख सकते है जो की trend के साथ के ना हो तो वहाँ एंट्री मत लिजिएगा।

निचे चित्रों में इसका उदहारण है, देखिये जरा।

कैसे MAJOR TREND ( बड़े ट्रेंड ) का भरपूर स्वाद ले सकते है – उसमे बने रहकर बड़ा profit ले सकते है।

अच्छा स्वाद लेने के लिए अच्छा समय देना होता है न रसोई में ताकि व्यंजन अच्छा बने। वैसे ही बड़ा Trend का स्वाद लेने के लिए थोड़ा Stop Loss को चिपका के मत रखो कुछ स्वास लेने की जगह यानि समय दो। ……..

Tight Trailing Stop loss पूरा Trend Enjoy नहीं करने देगा।

आपको थोड़ा सा Buffer – कुछ points की जगह देनी चाहिए उसका सबसे अच्छा तरीका है 200MA के साथ साथ Trail करना सबसे अच्छा रहेगा। ये Trailing Investors के लिए है।

मतलब की मान लीजिये 200MA भाव से ऊपर है तो Uptrend में आपको Buy Entry लेनी है और अपने ले राखी है तो आप trade से तभी निकलेंगे जब भाव 200MA से निचे CLOSE करेगा।

निचे चित्रों में इसका उदहारण है, देखिये जरा।

मदमस्त कर देने वाली TIPS(सूत्र)

अगर आप Short-term Trend को Enjoy करना चाहते है तो अपने Stop loss को 20MA के साथ Trail कीजिए।

अगर आप Mid-term Trend को Enjoy करना चाहते है तो अपने Stop loss को 50MA के साथ Trail कीजिए।

अगर आप Long-term Trend को Enjoy करना चाहते है तो अपने Stop loss को 200MA के साथ Trail कीजिए।

सार बात :

200 Day Moving Average एक Long-term trend Indicator है।

आप 200 Day Moving Average भाव से निचे है तो Buy Side के trade ले सकते है। और अगर 200 Day Moving Average भाव से ऊपर है तो Sell side के trade ले सकते है।

आप 200 Day Moving Average के साथ Stop loss को trail करते करते पूरा Trend का स्वाद ले सकते है।

अब आप ये बताइये के आप कैसे करते थे 200MA को Use और कैसा लगा आपको ये Blog.

अपने विचार निचे Comment किजियेगा और अपने विचार साँझा कीजिए।

स्वस्थ रहिए , फिर मिलेंगे।